ArariaBiharCrime

Honor Killing : प्रेमिका को प्रेमी के स्वजनों ने दिया सहारा, बोले- तुम मेरी बेटी हो, अररिया के इस प्रेम कहानी को सुनकर सभी दुखी

Honor Killing : रानीगंज थाना क्षेत्र खरसाही पंचायत के बढ़ोआ गांव में प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी छोटू यादव की हत्या मामले में मृतक के पिता उमेश यादव के बयान पर रानीगंज थाना में केस दर्ज किया गया है।

मृतक के पिता ने बताया कि बुधवार की सुबह लगभग तीन बजे के बाद धीरेंद्र यादव की पुत्री आरती कुमारी मेरे मोबाइल पर फोन कर बताया कि छोटू यादव को मेरे पिताजी धीरेंद्र यादव, भाई रविकांत यादव, शशिकांत यादव, जीजा पूर्णिया जिले का जानकीनगर थाना क्षेत्र के झालीघाट निवासी पवन यादव, बौसी थाना क्षेत्र के लकुनवां निवासी मिथलेश यादव, मेरी भाभी रूबी देवी, भरगामा थाना क्षेत्र के गोलहा निवासी चंदन यादव मिलकर मारपीट कर रहा है। सूचना मिलने पर जब हम सुबह साढ़े तीन बजे धीरेंद्र यादव के घर पहुंचे तो देखा कि धीरेंद्र यादव के घर का कमरा बाहर से ताला बंद है और अंदर में लाठी डंडा, मुंगडा, लोहे का राड से मार रहा था। प्रेमिका का जीजा पवन यादव बिजली का करंट वाला तार मेरे पुत्र छोटू को सटा दिया। जिससे उनकी मौत हो गई। इसके बाद हल्ला होने पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गया और दरवाजा तोड़कर कमरे के अंदर घुसा तो देखा कि मेरे पुत्र की मौत हो चुकी थी।

Reliance Jio ने की Offers की बरसात! ऐसे Free में करा सकते हैं 2 हजार रुपये का रिचार्ज, बस करना होगा ये काम

मृतक की प्रेमिका को मृतक के स्वजनों ने दिया आसरा

रानीगंज थाना क्षेत्र खरसाही पंचायत के बढ़ोआ गांव में प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी छोटू यादव की हत्या

प्रेमी की हत्या के बाद बेबस प्रेमिका को मृतक के पिता ने आसरा दिया है। प्रेमिका आरती कुमारी को भी जान का खतरा महसूस होने लगा है। क्योंकि जिस समय मृतक छोटू यादव की हत्या की गई थी उसके बाद प्रेमिका की भी हत्या की साजिश रची गई थी। प्रेमिका आरती कुमारी के शरीर में भी मारपीट के जख्म है। वह तो मृतक का पिता और ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंच गए थे इसीलिए प्रेमिका की जान बच गई है। लोगों के मुंह से यही निकल रहा है कि दो हंसों का जोड़ा बिछड़ गयो रे गजब हुई रमा जुलुम भयो रे।

फिलहाल मारपीट के साथ प्रेमी के मौत का दर्द बड़ी मुश्किल से सह पा रही है। बड़ी ही मुश्किल से मृतक के स्वजनों के सांत्वना से कुछ देर तो शांत रहती है लेकिन अपने आप को नहीं संभाल पा रही है। अब प्रेमिका का सर्वस्व लूट चुका है किसके सहारे जिंदगी जाएगी कौन उनकी जीवन नैया पार कराएंगे अन्य सवालों को मन में सोच सोच विचलित हो रही है। लेकिन इतना सब होने के बाद भी मृतक का पिता उमेश यादव ने कहा कि हम इनकी देखभाल करेंगे। और आगे की जिंदगी जीने का भी रास्ता ढूंढेंगे। गुरुवार को भी प्रेमिका अपने मृत प्रेमी के स्वजनों के साथ रानीगंज थाना पहुंच कर अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंची थीं, लेकिन असहनीय दर्द से कराह रही थी।

वहीं रानीगंज थानाध्यक्ष कौशल कुमार ने बताया कि मृतक के पिता के फर्द बयान पर केस दर्ज किया गया है। साथ ही गिरफ्तार प्रेमिका के पिता धीरेंद्र यादव तथा भाई रविकांत यादव को जेल भेज दिया गया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी भी बहुत जल्द किया जायेगा।

President Election 2022: अब तक 6 ब्राह्मण, 2 दलित और 1 कायस्थ बन चुके हैं राष्ट्रपति, 3 मुस्लिम और 1 महिला को भी मिल चुका है मौका, जानें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button