CrimeBegusaraiBiharNationalPolitics

Begusarai Firing Case: दो बाइक, 4 बदमाश, 30 किलोमीटर, बेगूसराय में हुए ‘खूनी खेल’ की पूरी कहानी

Begusarai News: बेगूसराय के बछवाड़ा से लेकर चकिया तक करीब 30 किलोमीटर तक गोलीबारी की गयी। इस मामले के सारे सच जानने के लिए इस न्यूज़ को पढ़ें।

Begusarai Firing Case: बिहार के बेगूसराय में मंगलवार को हुई फायरिंग मामले में जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है वैसे-वैसे खुलासे हो रहे हैं. कल तक यही कहा जा रहा था कि एक बाइक पर दो साइको शूटर्स ने फायरिंग की इस घटना को अंजाम दिया है, लेकिन अब यह संख्या डबल हो गई है. दो बाइक पर चार शूटर्स थे जिन्होंने तहलका मचाया है. ना सिर्फ संख्या डबल हुई बल्कि चारों शूटर्स की तस्वीर भी सामने आ गई है. आइए जानते हैं कि 24 घंटे में इस बेगूसराय गोलीकांड में अब तक क्या कुछ हुआ है.

Begusarai Firing Case

दो बाइक पर सवार साइको शूटर्स ने बेगूसराय के बछवाड़ा से लेकर चकिया तक करीब 30 किलोमीटर तक गोलीबारी की. घटना के 24 घंटे बाद तक पुलिस अंधेरे में तीर मार रही है. इस 30 किलोमीटर के बीच में चार थाने पड़े लेकिन पुलिस के हाथ शूटर्स नहीं लगे. 40 मिनट तक नेशनल हाईवे होते ही शूटर्स आतंक मचाते रहे. इस 30 किलोमीटर के बीच में आधिकारिक आंकड़ों की मानें तो दस लोगों को गोली मारी गई जिसमें से एक शख्स जिसका नाम चंदन कुमार था उसकी मौत हो गई. नौ लोगों को इलाज चल रहा है.

किस थाना क्षेत्र में कहां हुई गोलीबारी?

पहली घटना बछवाड़ा थाना क्षेत्र की है. यहां के गोधना में शूटर्स ने गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया. शाम चार बजे के आसपास यहीं से वारदात शुरू हुई. बदमाशों ने यहां एक फाइनेंस कर्मचारी विशाल कुमार (26) को गोली मार दी. दूसरी घटना तेघड़ा थाना क्षेत्र के पिढ़ौली की है. यहां भी गोलीबारी की गई जिसमें पिढ़ौली निवासी 30 वर्षीय गौतम कुमार को गोली लगी.

तीसरा थाना क्षेत्र है फुलवरिया जहां के मोती चौक पर गोलीकांड हुआ. यहां एक युवक दीपक कुमार को पीठ में गोली मार दी गई. वहीं चौथा थाना क्षेत्र है चकिया जहां यह वारदात हुई है. इस तरह अलग-अलग कुल चार थाना क्षेत्रों में घटना को अंजाम दिया गया जिससे लगभग 25 से 30 किलोमीटर तक का इलाका गोलियों की तड़तड़ाहट से दहल उठा.

बेगूसराय फायरिंग केस, Begusarai Firing Case , Begusarai News

Begusarai Firing में घायलों में कौन-कौन हैं?

घायल नौ लोगों में रोहित कुमार, उंचा टोल, थाना-फुलवरिया, रंजीत कुमार (25 वर्ष) निवासी थाना घोसवरी पटना, विशाल कुमार (27 वर्ष) बाढ़ पटना, प्रशांत कुमार रजक (35 वर्ष) मरांची, जिला पटना को गोली लगी है. इसके अलावा गौरव कुमार (23 वर्ष) तियाय, दीपक चौधरी (22 वर्ष) रघुनंदनपुर थाना तियाय ओपी, भरत यादव (45 वर्ष) कसहा थाना-चकिया ओपी, अमरजीत दास (40 वर्ष) बरौनी फ्लैग और अमरजीत कुमार उर्फ जीतू (20 वर्ष) मल्हिपुर वीरपुर टोला थाना-चकिया ओपी शामिल हैं.

घायलों में दो सदर अस्पताल में भर्ती

घायलों के इलाज की बात की जाए तो नौ लोगों में दो का इलाज बेगूसराय सदर अस्पताल में चल रहा है. इसके अलावा बाकी अन्य सात लोगों का इलाज अलग-अलग जगहों पर हो रहा है. जख्मी होने वालों में कोई गैस एजेंसी का ड्राइवर, कोई आइसक्रीम बेचने वाला, कोई फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी तो कोई पान बेचने वाला है. वहीं कोई पंचायत सदस्य है तो कोई गाय पालने वाला. यानी जिन लोगों पर गोली चली सभी आम लोग हैं.

छापेमारी के लिए बनाई गई चार टीम

वहीं घटना को लेकर बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार ने यह कहा है कि चार विशेष टीम का गठन किया गया है. पड़ोसी जिले जो बेगूसराय के हैं जहां से अपराधियों के आने जाने की संभावना है वहां के सीसीटीवी को देखा जा रहा है. लगातार छापेमारी की जा  है. जो लोग शक के आधार पर हैं उनके यहां छापेमारी की जा रही है. घटना के बाद से ही जिले में नाकाबंदी कर दी गई है.

मामले को लेकर कट रहा सियासी बवाल

बिहार के बेगूसराय में हुए गोलीकांड को लेकर विरोध में अब सड़क पर विरोध शुरू हो गया है. बेगूसराय के हर हर महादेव चौक पर बीजेपी के समर्थकों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के खिलाफ नारेबाजी की. हर हर महादेव चौक पर केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसद गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) भी धरने पर बैठे हैं. साथ में बीजेपी के कार्यकर्ता भी मौजूद हैं. सड़क पूरी तरह जाम हो गया है.

ये भी पढ़ें:

आरती – छोटू केस में आया नया मोड़, सारे हदें पार करने वाली हैं आरती, जाने आरती और छोटू की प्रेम कहानी के हकीकत

Indian CEO: दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों पर एक छत्र राज कर रहे हैं ये भारतीय मूल के CEO

गिरिराज सिंह ने कहा कि घटना के लिए सिर्फ और सिर्फ नीतीश कुमार जिम्मेदार हैं. महागठबंधन सरकार बनते ही अपराधी बैखौफ हो गए हैं. पुलिस बेबस लाचार है. अब तक अपराधी पकड़े नहीं गए हैं. नीतीश कुमार यह कह भी नहीं सकते कि बिहार में जंगलराज है क्योंकि यह कहेंगे तो उनकी कुर्सी आरजेडी ले लेगी. गद्दी से उतार देगी. बिहार को डर, अपराध के दलदल में नीतीश ने धकेल दिया है.

घायलों से मिलने पहुंचे विजय कुमार सिन्हा

नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा बेगूसराय सदर अस्पताल पहुंचे और घायलों से मिले. विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि बिहार में अपराधी बेखौफ हैं. महाजंगलराज आ गया है. पीएम उम्मीदवार बनने के चक्कर में नीतीश कुमार ने अपराधियों, भ्रष्टाचारियों से गठबंधन कर सरकार बनाई है. उसी का नतीजा है कि बेगूसराय में इतनी बड़ी घटना हुई है. आज तक पहले कभी ऐसा नहीं हुआ था. खुलेआम 10 लोगों को गोली मार दी गई. गृह मंत्रालय नीतीश के पास है. गृह मंत्रालय नीतीश तुरंत छोड़ दें. नीतीश कुमार ने बिहार को बर्बाद कर दिया.

जदयू प्रवक्ता निरज कुमार ने क्या कहा

जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने इस घटना को लेकर बुधवार को कहा कि बेगूसराय की घटना लीक से हटकर एक असामान्य आपराधिक घटना को अपराधियों ने अंजाम दिया है. ये दुखद है, मार्मिक है और चुनौतीपूर्ण है. ऐसी घटना पर राजनीतिक प्रतिक्रिया भी आने लगी है जो स्वाभाविक है. ये उनका धर्म है. हमारी प्राथमिकता केवल और केवल यही है कि जल्द से जल्द अपराधी कानून के जद में आए. जिसने भी यह दुस्साहस वाला काम किया है उसको कानून के तहत जेल के सलाखों के पीछे पहुंचाना हमारा प्राथमिक दायित्व है.

पांच लोगों को किया गया है डिटेन

एसपी योगेंद्र कुमार ने कहा कि जिले के बॉर्डर भी सील हैं. करीब पांच लोगों को डिटेन किया गया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. पूछताछ जारी रहेगी. हमलोगों को जितने भी इनपुट्स मिले हैं उस पर हमलोग जांच कर रहे हैं. सीसीटीवी से फोटग्राफ्स मिले हैं. दो बाइक पर चार लोग हैं जिन्होंने घटना को अंजाम दिया है.

नीतीश कुमार ने डीजीपी के साथ की बैठक

बेगूसराय में 10 लोगों को गोली मारने के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डीजीपी एसके सिंघल को बुधवार को तलब किया. बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने डीजीपी एसके सिंघल से बेगूसराय की घटना को लेकर बात की. डीजीपी को सीएम आवास पर बुलाया गया जहां नीतीश ने बेगूसराय की घटना को लेकर करीब 55 मिनट तक बात की.

नीतीश कुमार ने बेगूसराय घटना पर क्या कहा?

नीतीश कुमार ने इस मामले में शाजिस की आशंका जताई है. सीएम ने बुधवार को कहा कि अधिकारियों से कहा गया है कि वे एक-एक चीज पर नजर रखें. लगता है कोई साजिश है. उन्होंने कहा- अतिपिछड़ी जाति के लोगों को निशाना बनाया गया.

Begusarai Firing Case में वांटेड की तस्वीर जारी

बेगूसराय की घटना को लेकर पुलिस ने वांटेड अपराधियों की तस्वीर जारी की है. पुलिस ने लोगों से अनुरोध किया है कि अगर किसी को भी आरोपी की सूचना मिले तो तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दें. बेगूसराय पुलिस ने कहा कि एसपी के मोबाइल नंबर 9431800011 पर जानकारी दे सकते हैं.

Begusarai Firing Case

इस पूरे मामले में पर लगातार विपक्ष सरकार को घेर रहा है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह आज बुधवार को बेगूसराय में धरना पर बैठ गए. नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा, शाहनवाज हुसैन समेत कई बीजेपी के नेता बेगूसराय पहुंचे और घायलों से मुलाकात की. इस दौरान नेताओं ने बिहार में जंगलराज रिटर्न का आरोप लगाया और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस्तीफा देने के लिए कहा.

ये भी पढ़ें:

PM Kisan Yojana 12 Kist Date : 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे किसानों के लिए अच्छी खबर, जानें अपडेट

कॉलगर्ल सप्लायर के पास मधेपुरा एसपी का मोबाइल मिलने से मचा हरकंप, वायरल वीडियो दे रहा डीएसपी के घिनौने हरकत का सबूत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button