CrimeBiharKatiharPurnia

कटिहार के रजिस्ट्रार जयकुमार के पांच ठिकानों पर निगरानी का छापा, आय से अधिक संपत्ति का मामला

पूर्णिया में निगरानी विभाग की छापेमारी (Vigilance Department Raids In purnea) की गई. ये रेड कटिहार रजिस्ट्रार जय कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले को लेकर पड़ी है. बताया जाता है कि इस मामले में पूर्णिया के अलावा रजिस्ट्रार के चार अन्य ठिकानों पर भी छापा पड़ा है.

पूर्णिया/कटिहारः बिहार के पूर्णिया केहॉट थाना क्षेत्र में आय से अधिक संपत्ति मामले में कटिहार रजिस्ट्रार जयकुमार (Katihar Registrar Jaikumar) के चूनापुर रोड स्थित कोसी अपार्टमेंट फ्लैट नंबर 402 में निगरानी विभाग (Vigilance department Raids on Katihar registrar Residence) का छापा पड़ा है. आय से अधिक संपत्ति को लेकर निगरानी विभाग की 5 सदस्य टीम छापेमारी कर रही है. बताया जाता है कि यह छापेमारी जय कुमार के पूर्णिया स्थित फ्लैट के अलावा कटिहार, पटना और सिलीगुड़ी ठिकानों पर एक साथ चल रही है.

पांच ठिकानों पर छापेमारी अभियान जारीः बताया जाता है कि भ्रष्ट सब-रजिस्ट्रार पहले पूर्णिया में पदस्थापित था. वहां भी उसने गलत तरीके से अकूत संपत्ति अर्जित की थी और अवैध संपत्ति को पड़ोसी राज्य बंगाल में लगाया था. अब निगरानी की टीम इन सभी ठिकानों पर सुबह से ही छापेमारी कर रही है. विभाग को इनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत मिली थी. जिसके बाद सत्यापन कराया गया. सही पाए जाने के बाद आज उनके पांच ठिकानों पर छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है.

 ये हैं बिहार के टॉप 5 मंदिर जहाँ दर्शन भर से दूर हो जाता है कष्ट

‘आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज हुआ था, जिसके बाद ये छापोमारी की गई. इनके खिलाफ काफी शिकायत मिली थी. जिसके बाद मामला सही पाए जाने पर आज पांच जगहों पर छापोमारी की जा ही है. सभी जगह छापेमारी पूरी होने के बाद ही कुछ जा सकता है’

राजीव चंद्र सिंह, डीएसपी निगरानी

 कटिहार के रजिस्ट्रार जयकुमार के पांच ठिकानों पर निगरानी का छापा, आय से अधिक संपत्ति का मामला

शुरूआती छापेमारी में 6 लाख रुपये नकद बरामदः निगरानी विभाग की विशेष सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार निगरानी ब्यूरो की शुरूआती छापेमारी में 6 लाख रुपये नकद बरामद हो चुके हैं. वहीं जमीन के पंद्रह कागजात, सिलीगुड़ी में चार कमरे का फ्लैट और एक जमीन के कागजात मिले हैं. पटना में भी मकान और फ्लैट के कागजात मिले हैं. निगरानी विभाग की छापेमारी अभी जारी है.

जीरो टॉलरेंस नीति के तहत हो रही कार्रवाईः दरअसल बिहार सरकार के निर्देशानुसार जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत निगरानी विभाग और आर्थिक अपराध इकाई द्वारा लगातार भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है. इसी कड़ी में शनिवार को जय कुमार के पटना सहित पांच ठिकानों पर छापामारी अभियान चलाया गया है. सभी जगह छापेमारी पूरी होने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा कि कितनी रकम और क्या-क्या चीजें बरामद हुई हैं.

पहले मेरे पिताजी का 65 महीने से बकाया वेतन दीजिए’, सुपौल में लड़की ने जांच टीम को दिखाई चप्पल…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button